Nageshwar Jyotirlinga – How to Reach ?| नागेश्वर ज्योतिर्लिंग – कैसे पहुंचें ?

नागेश्वर ज्योतिर्लिंग गुजरात में सौराष्ट्र के तट पर द्वारका शहर और बेयट द्वारका द्वीप मार्ग पर स्थित हैं। भगवान शिव को समर्पित यह 12 ज्योतिर्लिंगों में से 10 वां ज्योतिर्लिंग हैं। धार्मिक पुराणों में भगवान शिव को नागों का देवता बताया गया है और नागेश्वर का अर्थ होता है नागों का ईश्वर। नागेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर के परिसर में भगवान शिव की ध्यान मुद्रा में एक बड़ी ही मनमोहक अति विशाल प्रतिमा है। यह मूर्ति 125 फीट ऊँची तथा 25 फीट चौड़ी है। यह प्रतिमा मंदिर से दो किलोमीटर की दूरी से ही दिखाई देने लगती है। मंदिर के पास एक बड़ा उद्यान भी हैं जहां पर्यटक विश्राम कर सकते हैं। नागेश्वर ज्योतिर्लिंग को ‘दारुकवाना’ के नाम से भी जाना जाता हैं।

नागेश्वर ज्योतिर्लिंग के दर्शन करने का सबसे अच्छा समय –
Best Time To Visit Nageshwar Jyotirlinga –

यदि आप नागेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर के पवित्र तीर्थ स्थान की यात्रा पर जाना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि अक्टूबर से फरवरी के बीच का समय यहां घूमने के लिए सबसे अच्छा माना जाता हैं। हालाकि आप वर्ष में किसी भी समय के दौरान यहां आ सकते है।

मंदिर की समय सारिणी –

नागेश्वर मंदिर सुबह पांच बजे प्रात: आरती के साथ खुलता है जबकि आम जनता के लिए मंदिर छ: बजे खुलता है। सुबह से ही मंदिर के पुजारियों द्वारा कई तरह की पूजा और अभिषेक किए जाते हैं और 12:30 बजे तक भक्त यहां भगवान के दर्शन कर सकते हैं इसके बाद मंदिर भक्तों के लिए शाम चार बजे श्रृंगार दर्शन होता है जिसके बाद गर्भगृह में प्रवेश बंद हो जाता है। आरती शाम सात बजे होती है तथा रात नौ बजे मंदिर बंद हो जाता है। त्यौहारों के समय यह मंदिर ज्यादा समय के लिए खोल दिए जाते हैं।

नागेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर के आस-पास अन्य तीर्थ एवं दर्शनीय स्थल  –Places To Visit Near Nageshwar Jyotirlinga Temple –

नागेश्वर ज्योतिर्लिंग कैसे पहुंचें –

हवाई मार्ग –  नागेश्वर ज्योतिर्लिंग की यात्रा के लिए निकटतम हवाई अड्डा जामनगर (Jamnagar) है। यहां से आप स्थानीय साधनों की मदद से नागेश्वर ज्योतिर्लिंग आसानी से पहुंच जाएंगे। जामनगर से नागेश्वर ज्योतिर्लिंग की दुरी 137 Km है।

 रेलवे मार्ग –  नागेश्वर ज्योतिर्लिंग दर्शन के लिए यदि आपने रेलवे मार्ग का चुनाव किया है तो हम आपको बता दें की सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन द्वारिका (Dwarka) का हैं। यहां से आप स्थानीय साधनों से नागेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर पहुँच जाएंगे।

सड़क मार्ग – नागेश्वर ज्योतिर्लिंग जामनगर (137Km) और अहमदाबाद(440Km) सड़क मार्ग पर स्थित हैं।

भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग | सही क्रम और उनसे जुड़ी कुछ खास बातें

Leave a Reply