Baba Baidyanath Dham Jyotirlinga – How to Reach ? | बाबा बैद्यनाथ धाम ज्योतिर्लिंग – कैसे पहुंचे ?

भारत के प्रसिद्ध शैव तीर्थस्थलों में झारखंड के देवघर का बैद्यनाथ धाम (बाबाधाम) अत्यंत महत्वपूर्ण है। बैद्यनाथ धाम का कामना लिंग  12ज्योतिर्लिगों में सर्वाधिक महिमामंडित कहा जाता है। इस मंदिर की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसके शीर्ष पर त्रिशूल नहीं, ‘पंचशूल’ है, जिसे सुरक्षा कवच माना गया है। सभी 12 ज्योतिर्लिंग  के मंदिरों के शीर्ष पर ‘त्रिशूल’ है, परंतु बाबा बैद्यनाथ के मंदिर में ही पंचशूल स्थापित है। उन्होंने कहा कि सुरक्षा कवच के कारण ही इस मंदिर पर आज तक किसी भी प्राकृतिक आपदा का असर नहीं हुआ है।

बाबा बैद्यनाथ धाम यात्रा करने का सबसे अच्छा समय –
Best Time To Visit Baidyanath Temple –

अगर आप देवघर में स्थित बैद्यनाथ धाम मंदिर जाने की योजना बना रहें हैं तो आपको बता दें कि यहां की बाबा धाम यात्रा करने का सबसे अच्छा समय सर्दियों में है। ग्रीष्मकाल के समय यहां बहुत तेज गर्मी पड़ती है और मानसून भी आपकी यात्रा का मजा किरकिरा कर सकता है। इसलिए हम आपको सलाह देना चाहते हैं कि आप इस पवित्र मंदिर की यात्रा अक्टूबर से मार्च तक के महीनों के दौरान करें।

प्रसिद्ध श्रावण मेला –
Famous Shravan Mela

बैद्यनाथ मंदिर में हर साल जुलाई और अगस्त के महीने में श्रावण मेले का आयोजन किया जाता है जिसमें देश के सभी भागों से लगभग 7 से 8 मिलियन भक्त इस स्थान पर आते हैं और इस जीवंत उत्सव का हिस्सा बनते हैं। यहां आने वाले भक्त सुल्तानगंज से गंगा का पानी एकत्र करते हैं और फिर नंगे पांव बैद्यनाथ तक जाते हैं जो कि 108 किलोमीटर दूर है।

बाबा बैद्यनाथ धाम के प्रांगण में स्थित मंदिर

माँ  पार्वती मंदिर, माँ जगत जननी मंदिर, गणेश मंदिर, ब्रह्मा मंदिर, संध्या मंदिर, कल मनाशा मंदिर, हनुमान मंदिर, माँ  मनशा मंदिर, माँ सरस्वती मंदिर, सूर्य नारायण मंदिर, माँ बागला मंदिर, राम मंदिर, आनंद भैरव मंदिर, माँ गंगा मंदिर, गौरी शंकर मंदिर, माँ तारा मंदिर, माँ काली मंदिर, माँ नारदेश्वर मंदिर, माँ अन्नपूर्णा मंदिर, लक्ष्मी नारायम मंदिर, नीलकंठ मंदिर।

बाबा बैद्यनाथ धाम के अन्य पर्यटन स्थल –
Other Places To Visit near Baba Baidyanath Dham –

बाबा बैद्यनाथ धाम कैसे पहुंचे
How To Reach Baba Baidyanath Dham –

हवाई मार्ग – देवघर का निकटतम हवाई अड्डा पटना (Patna) है। पटना से आप ट्रैन या टैक्सी से देवघर पहुंच सकते है। पटना से देवघर की दुरी 254 Km है।

रेलवे मार्ग बैद्यनाथ धाम के निकटतम रेलवे स्टेशन जसीडीह (Jasidih jn JSME) है। यह हावड़ा पटना दिल्ली लाइन पर है। सभी प्रमुख शहरोसे जसीडीह के लिए ट्रेनें चलती हैं। जसीडीह से देवघर की दुरी 8 किमी है। जसीडीह रेल्वे स्टेशन से देवघर पहुंचने के लिए ऑटो रिक्शा या टैक्सी मिल जाती है।

सड़क मार्ग देवघर सीधे बड़े शहरो से जुड़ा हुआ है। कोलकाता (373 किमी), पटना (281 किमी), (रांची 250 किमी) तक सड़क से जुड़ा हुआ है। देवघर से धनबाद, बोकारो, जमशेदपुर, रांची और बर्धमान (पश्चिम बंगाल) तक नियमित बसें चलती हैं।

बाबा बैद्यनाथ मंदिर की समय सारणी 

सुबह: 4:00 से दुपहर 3:30 बजे
शाम: 6:00 से 9:00 बजे तक
बाबा बैद्यनाथ का मुख्य मंदिर द्वार सामान्य दिनों में रात 9: 00 बजे बंद हो जाता है, लेकिन बाबा मंदिर परिसर का द्वार पूरी रात खुला रहता है। श्रवण मेला और शिवरात्रि, सोमवारी आदि जैसे कई अन्य अवसरों के दौरान दर्शन समय आमतौर पर बढ़ाया जाता है।

भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग | सही क्रम और उनसे जुड़ी कुछ खास बातें

Leave a Reply