Aarogya Setu App| आरोग्य सेतु एप – कैसे करें इस्तेमाल

आरोग्य सेतु-आरोग्य सेतु का मतलब है ब्रिज ऑफ हेल्थ। भारत सरकार ने लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दो अप्रैल को कोरोना ट्रैकिंग ऐप आरोग्य सेतु को लॉन्च किया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए आरोग्य सेतु एप को सबसे अहम हथियार बतायाऔर सभी देशवासियों को Aarogya Setu ऐप डाउलोड करने की सलाह दी ।सरकार का यह ऐप लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे और जोखिम का आकलन करने में मदद करता है। अगर कोई कोरोना संक्रमित आपके आसपास होगा तो यह ऐप आपको अलर्ट कर देगा। लॉन्च होने के बाद से करोडो लोगों ने इसे डाउनलोड किया है।

कोरोना वायरस के संक्रमण को ट्रेस करने के लिए केवल भारत ही नहीं, बल्कि कई देश इस तरह के एप की मदद ले रहे हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना से जूझ रही दुनिया की 60 फीसदी आबादी इस तरह के एप का इस्तेमाल कर रही है।

इस ऐप की मदद से आप यह जान सकते हैं कि कहीं आप गलती से भी किसी Covid-19 संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आए। यह ऐप आपको भी खुद के चेकअप की सुविधा देती है जिससे आप जान सकें कि कहीं आप भी तो संक्रमित नहीं हैं।

यह एप 11 भाषाओं में उपलब्ध है इसमें अंग्रेजी, हिंदी, पंजाबी, गुजराती, बंगाली, तमिल समेत कुछ अन्य भाषाओं के लिए सपोर्ट शामिल है और साथ ही इसमें देश के सभी राज्यों के हेल्पलाइन नंबरों की सूची भी दी गई है।

एंड्रॉयड और आईफोन दोनों तरह के स्‍मार्टफोन पर इसे डाउनलोड किया जा सकता है. यह खास एप आसपास मौजूद कोरोना पॉजिटिव लोगों के बारे में पता लगाने में मदद करेगा. आपके मोबाइल के ब्लूटूथ, स्थान और मोबाइल नंबर का उपयोग करके ऐसा किया जाता है. आइए, देखते हैं कि आरोग्‍य सेतु एप का इस्‍तेमाल कैसे करना है…

  •  इसे यूज करने के लिए आपको सबसे पहले अपना फोन नंबर रजिस्टर करना होगा।
  • फोन नंबर डालते ही एक OTP आएगा जिसे एंटर करते ही आप रजिस्टर हो जाते हैं।
  • इसके बाद आपको इसे कुछ परमिशन्स देनी होती है जिसमें आपकी GPS लोकेशन एक्सेस शामिल है।
  • जैसे ही रजिस्टर करते हैं तो यह आपकी पर्सनल जानकारी पूछता जिसमें आपक नाम, लिंग, उम्र, पेशा और 30 दिन की ट्रैवल हिस्ट्री शामिल है।
  • इसके बाद आप अपनी मनचाही भाषा चुन सकते हैं।
  • इसे यूज करना आसान है। इसमें आपसे कुछ सवाल किए जाते हैं जिससे पता लगता है कि आप कहीं संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आए। साथ ही अगर किसी के संपर्क में आते हैं तो यह आपको तुरंत अलर्ट भी करता है। जब भी आप किसी हाई रिस्क कैटेगरी में जाते हैं तो यह आपको तुरंत अलर्ट करेगा।
  • ऐप में Covid-19 हेल्प सेंटर के नंबर्स की लिस्ट दी गई है। साथ ही आप इसमें सेल्फ असेसमेंट भी कर सकते हैं।

सरकार ने ये दावा किया है – आरोग्य सेतु एप पूरी तरह सुरक्षित है और इससे निजता में किसी तरीके से सेंध नहीं लगाई जा सकती। 

Leave a Reply